गाड़ी रुकी तो अतीक मीडिया से बोला- जान बचा रहे हो आप लोग मेरी, थैंक्यू

09:14 AM Apr 12, 2023 | प्रशांत सिंह
Advertisement

माफिया अतीक अहमद (Atiq Ahmad) को उमेश पाल हत्याकांड (Umesh Pal Murder) केस की सुनवाई के लिए पेश होना है. पेशी के लिए अतीक को यूपी पुलिस गुजरात के साबरमती जेल से प्रयागराज (UP Police) ला रही है. साबरमती जेल से राजस्थान के उदयपुर होते हुए मध्यप्रदेश के शिवपुरी के रास्ते अतीक अहमद को प्रयागराज लाया जा रहा है. इस बीच शिवपुरी में अतीक का काफिला रुका तो मीडिया से उसने बात की. इंडिया टुडे से बात करते हुए अतीक अहमद ने कहा, “आप लोगों का शुक्रिया. आप लोगों की वजह से हिफाजत है.”

Advertisement

अतीक अहमद ने आगे कहा कि उसका परिवार पूरी तरह बर्बाद हो चुका है. इंडिया टुडे से जुड़ी संवाददाता गोपी घांघर की रिपोर्ट के मुताबिक अतीक ने कहा,

“हमारा परिवार तो पूरी तरह बर्बाद हो गया. माफियागिरी तो पहले ही खत्म हो गई थी. उमेश पाल की हत्या हम कैसे कर सकते हैं. हम तो जेल में बंद थे.”

अतीक अहमद से इंडिया टुडे ने जब सवाल किया, ‘कल तक आप दबंगई कर रहे थे तो डर नहीं लग रहा था, आप पर 100 से ज्यादा मामले दर्ज हैं, अब क्यों डर रहे हो?’ सवाल का जवाब देते हुए अतीक ने कहा,

“हमारे परिवार को मिट्टी में मिला दिया. अब रगड़े ही जा रहा है.”

रिपोर्ट के मुताबिक अतीक को इससे पहले जो टीम लेने गई थी, वही टीम इस बार भी भेजी गई है. पुलिस की टीम में प्रभारी निरीक्षक और 30 कॉन्स्टेबल मौजूद हैं. काफिले में एक जीप और दो बंदी रक्षक वाहन भी हैं. अतीक को प्रयागराज पुलिस ने उमेश पाल हत्याकांड में आरोपी बनाया है. इसी मामले की सुनवाई के लिए उसे प्रयागराज लाया जा रहा है.

उमेश पाल हत्याकांड

24 फरवरी को दिनदहाड़े प्रयागराज में राजू पाल हत्याकांड के मुख्य गवाह उमेश पाल की हत्या कर दी गई थी. उमेश पाल अपने घर की ओर जा रहे थे, तभी गली के बाहर कार से उतरते वक्त उमेश पर बदमाशों ने फायरिंग कर दी. बम भी फेंके गए. हमले में उमेश पाल के साथ-साथ उनके दो गनर्स की भी मौत हो गई थी. उमेश पाल की पत्नी ने इस मामले में अतीक, उसके भाई अशरफ सहित 9 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया. प्रयागराज पुलिस इस मामले में अतीक के बेटे असद समेत पांच शूटरों की तलाश में जुटी है.

Advertisement
Next