मीशो ने ये कह अपने वर्कर्स को दी 11 दिन की छुट्टी, कहा- जाओ एन्जॉय करो!

11:05 PM Sep 22, 2022 | अभय शर्मा
Advertisement

अगर आपसे कहा जाए कि आपकी कंपनी आपको 11 दिन की छुट्टी दे रही है, कहीं जाइए, एन्जॉय कीजिए, तो शायद आपको भरोसा नहीं होगा. लेकिन, देश की एक चर्चित कंपनी ने ऐसा ही किया है. उसने अचानक से अपने कर्मचारियों को 11 दिन के लिए छुट्टी पर भेजने का ऐलान कर दिया है. कंपनी का नाम है मीशो (Meesho).

Advertisement

Meesho अपने कर्मचारियों को 11 दिनों का ब्रेक दे रही है, ताकि वो मानसिक रूप से स्वस्थ और तनाव से मुक्त रह सकें. ऑनलाइन शॉपिंग कंपनी मीशो ने इन 11 दिनों के ब्रेक को 'रिसेट एंड रिचार्ज ब्रेक (Reset and Recharge Break)' नाम दिया है.

कंपनी इससे पहले भी इस तरह का फैसला ले चुकी है. ये लगातार दूसरा साल है, जब मीशो के कर्मचारियों को 11 दिन का ब्रेक मिल रहा है. ये ब्रेक फेस्टिव सीजन के बाद 22 अक्टूबर से शुरू होगा और एक नवंबर तक चलेगा. कंपनी का कहना है कि इस फैसले से उसके कर्मचारियों को व्यस्त फेस्टिव सीजन सेल के बाद काम से पूरी तरह दूर होकर अपने आपको तनाव से दूर करने में मदद मिलेगी.

Meesho के संस्थापक ने कही ये बात

कंपनी के संस्थापक संजीव बरनवाल ने ट्विटर पर खुद इसकी घोषणा की है. उन्होंने अपने एक ट्वीट में लिखा,

हमने लगातार दूसरे साल कर्मचारियों के लिए 11 दिनों के ब्रेक का ऐलान किया है. आगामी त्योहार वाले सीजन और वर्क लाइफ बैलेंस के महत्व को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया गया है. मीशो के कर्मचारी 22 अक्टूबर से 1 नवंबर, 2022 तक होने वाली इन छुट्टियां का इस्तेमाल खुद को रिसेट और रिचार्ज करने के लिए कर सकेंगे. मानसिक स्वास्थ्य महत्वपूर्ण है.

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, मीशो के चीफ ह्यूमन रिसोर्स अधिकारी आशीष कुमार सिंह ने कहा कि इस ब्रेक के दौरान कर्मचारी अपनी मर्जी से कुछ भी कर सकते हैं. वे अपने नजदीकी लोगों के साथ समय बिताएं या कोई नया सीखें या कहीं ट्रैवेल करें, ये पूरी तरह उनकी च्वॉइस है.

इधर सोशल मीडिया पर लोग मीशो की इस पहल की जमकर सराहना कर रहे हैं. ट्विटर यूजर अलोक चक्रवर्ती लिखते हैं,

‘भारत को आप जैसे और आंत्रप्रेन्योर (उद्यमियों) की जरूरत है.’

स्टॉक मार्केट साइंटिस्ट नाम के एक यूजर ने लिखा है,

‘ये समय की मांग है.… ये देखकर अच्छा लगा कि कुछ कंपनियां कार्य और जीवन के बीच के संतुलन के महत्व को समझ रही हैं.’

एक अन्य ट्विटर यूजर शौर्य विक्रम शाह ने लिखते हैं,

‘एक बढ़िया पहल. मानसिक स्वास्थ्य कंपनियों में सर्वोच्च प्राथमिकता होनी चाहिए. बहुत से लोग खामोशी के साथ ज्यादा मेहनत करते रहते हैं, क्योंकि उन्हें जीवन जीने के के लिए पैसा कमाना होता है. इस पहल के लिए मीशो को पूरे नंबर.’

मीशो के 11 दिन के ब्रेक के ऐलान की सराहना खूब हो रही है. अब ये देखना होगा कि मीशो की पहल की देखते हुए क्या दूसरी कंपनियां भी कुछ ऐसा करेंगी.


वीडियो देखें : अब लोन लेने वालों के लिए कौन सी नई मुसीबत आने वाली है?

Advertisement
Next