"मोहन भागवत राष्ट्रपिता, मदरसों का सर्वे सही", RSS प्रमुख से मिलकर बोले चीफ इमाम इलियासी

09:45 PM Sep 22, 2022 | अभय शर्मा
Advertisement

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के प्रमुख मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) ने अखिल भारतीय इमाम संगठन के प्रमुख डॉ इमाम उमर अहमद इलियासी से गुरुवार, 22 सितंबर को मुलाकात की. ये मुलाकात दिल्ली के कस्तूरबा गांधी मार्ग मस्जिद में स्थित अखिल भारतीय इमाम संगठन के कार्यालय में हुई. मुलाकात के बाद इलियासी ने मोहन भागवत की खुलकर तारीफ की. डॉ इलियासी ने भागवत को 'राष्ट्रपिता' और 'राष्ट्र ऋषि' बताया.

Advertisement

ANI से बातचीत में डॉ इलियासी ने कहा,

'मोहन भागवत जी पहली बार किसी मस्जिद में आए हैं. वे आज मेरे निमंत्रण पर पधारे. वो 'राष्ट्रपिता' और 'राष्ट्र-ऋषि' हैं. उनकी आज की यात्रा से देश में एक अच्छा संदेश जाएगा. भगवान की पूजा करने के हमारे तरीके अलग हैं, लेकिन सबसे बड़ा धर्म मानवता है. हमारा मानना है कि देश पहले आता है.'

मदरसे में बच्चों से क्या बोले Mohan Bhagwat?

आजतक से जुड़ीं मिलन शर्मा की रिपोर्ट के मुताबिक, गुरुवार को कस्तूरबा गांधी मार्ग मस्जिद में मुस्लिम नेताओं से मुलाकात के बाद RSS प्रमुख मोहन भागवत आजाद मार्केट के मदरसे में भी पहुंचे. यहां उन्होंने मदरसे में पढ़ने वाले बच्चों से काफी देर तक बातचीत की. भागवत ने बच्चों से पूछा क्या बनोगे? बच्चों ने कहा कि डॉक्टर-इंजीनियर. इस पर संघ प्रमुख बोले कि सिर्फ धर्म की पढ़ाई करके कैसे बनोगे. इस पर मोहन भागवत को बताया गया कि मॉडर्न एजुकेशन को लेकर भी डॉ इलियासी काम कर रहे हैं. इलियासी ने कहा कि वो बच्चों को संस्कृत भी पढ़ाएंगे, उसमें बहुत ज्ञान है. 

रिपोर्ट के मुताबिक डॉ इलियासी से हुई मुलाकात की जानकारी देते हुए आरएसएस के वरिष्ठ नेता इंद्रेश कुमार ने कहा,

ये बेहतरी के लिए एक प्रयास है. 70 साल से तो लड़ ही रहे हैं. जोड़ने वाले लोग ताकत से लड़ेंगे, तो बांटने वाले कमजोर होंगे. हिंदू-मुस्लिम करना गलत है. मोहन भागवत जी मुस्लिमों से पहले मुंबई में मिले, फिर 22 अगस्त को बुद्धिजीवियों से मिले, फिर आज का पेंडिंग इंविटेशन था इलियासी के यहां से. केएस सुदर्शन जी (संघ के पूर्व प्रमुख) भी इलियासी के पिता से मिलने जाते रहते थे.

बताते हैं कि मोहन भागवत से मुलाकात के दौरान इमाम उमर अहमद इलियासी ने मदरसों के सर्वे को लेकर भी अपनी राय रखी. उन्होंने कहा कि सर्वे कराने का फैसला ठीक है, क्योंकि मदरसों में आधुनिक तालीम दी जानी चाहिए.


वीडियो देखें: कांग्रेस ने हाफ पैंट का फोटो डाला, BJP-RSS भड़क गए!

Advertisement
Next