लॉकडाउन में सामान नहीं मिला तो खुद का ऐप बनाया, अब बन गए देश के सबसे अमीर युवा

09:59 PM Sep 22, 2022 | लल्लनटॉप
Advertisement

हुरुन इंडिया (Hurun India) ने भारत के सबसे अमीर युवाओं की लिस्ट जारी की है. इस लिस्ट में सबसे टॉप पर हैं 19 साल के कैवल्य वोहरा (Kaivalya Vohra). कैवल्य जेप्टो (Zepto) के फाउंडर हैं. जेप्टो एक ऐप्लिकेशन है, जो लोगों तक रोजमर्रा के सामान की होम डिलीवरी सर्विस देता है. कैवल्य और आदित पालिचा ने 2020 में कोविड काल में लॉकडाउन के दौरान जेप्टो को बनाया था.

Advertisement

कौन हैं कैवल्य वोहरा ?

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 19 साल के कैवल्य वोहरा 2022 की IIHL वेल्थ हुरुन इंडिया रिच लिस्ट में टॉप पर हैं. उनका जन्म कर्नाटक के बेंगलुरु में हुआ था. कैवल्य स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से कंप्यूटर इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहे थे, मगर अपना स्टार्ट अप शुरु करने के लिए उन्होंने बीच में ही पढ़ाई  छोड़ दी थी. जिसके बाद उन्होंने अपने साथी आदित पलीचा के साथ मिलकर किरानाकार्ट के नाम से एक स्टार्टअप शुरु किया था, जिसे उन्हें 10 महीनों के अंदर ही बंद करना पड़ गया था.

क्या खास है इस ऐप में ?

साल 2020 में कैवल्य ने अपने साथी आदित पलीचा के साथ मिलकर जेप्टो ऐप बनाया था, यह ऐप लोगों को रोजमर्रा के सामान की होम डिलीवरी सर्विस देता है. इस ऐप की सर्विसेज की खास बात है कि इसके जरिए 10 मिनट के अंदर लोगों तक ऑर्डर पहुंचाने की बात कही जाती है. ये ऐप बनाने का आइडिया उन्हें तब आया, जब साल 2020 में कोविड काल में लगे लॉकडाउन के दौरान उन्हें अपने इलाके में सामान खरीदने में परेशानी आई. जेप्टो की सर्विसेज़ दिल्ली और बेंगलुरु समेत पांच शहरों में मिलती है.

कैवल्य के अलावा फिजिक्सवाला के को-फाउंडर अलख पांडेय भी हुरुन IIFL वेल्थ लिस्ट में 4,000 करोड़ रुपये की संपत्ति के साथ 399वें स्थान पर हैं. हुरुन IIFL वेल्थ लिस्ट में ये भी पता चला कि देश में किए गए 59 स्टार्ट-अप्स के 100 स्टार्ट-अप फाउंडर्स की उम्र औसतन 40 साल है. जिनकी कुल संपत्ति करीब 5,06,000 करोड़ रुपये है और ये पहली बार है कि इस लिस्ट में 1,000 करोड़ रुपए से ज्यादा की संपत्ति रखने वाले भारतीयों की संख्या 1,100 से अधिक रही है. पिछले पांच सालों में ये संख्या 62 फीसदी तक बढ़ी है.

(ये स्टोरी हमारे साथ इंटर्नशिप कर रहे आर्यन ने लिखी है)


वीडियो: भारत पे के को-फाउंडर अशनीर ग्रोवर ने स्टार्ट अप पर क्या कहा?

Advertisement
Next