वर्ल्ड कप के लिए चुने गए इन बोलर्स के स्टैट्स देख माथा पीट लेंगे फ़ैन्स!

05:35 PM Sep 21, 2022 | रविराज भारद्वाज
Advertisement

एशिया कप में निराशाजनक प्रदर्शन के बाद भारतीय टीम की नजर T20 वर्ल्ड कप पर है. टीम पिछले वर्ल्ड कप में मिली नाकामी को भुलाकर इस बार अच्छा प्रदर्शन करने की कोशिश करेगी. इस टूर्नामेंट के लिए टीम घोषित हो चुकी है. इस टीम में चार फास्ट बोलर्स को चुना गया है. जिसमें भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) और हर्षल पटेल (Harshal Patel) भी शामिल हैं.

भुवनेश्वर कुमार जहां टीम के सबसे अनुभवी फास्ट बोलर हैं, वहीं हर्षल पटेल को टीम में डेथ ओवर स्पेशलिस्ट के तौर पर शामिल किया गया है. जबकि बुमराह और अर्शदीप के रूप में टीम में दो और फास्ट बोलर हैं. चूंकि वर्ल्ड कप ऑस्ट्रेलिया में है, ऐसे में टीम के फास्ट बोलर्स का रोल काफी अहम रहने वाला है.

Advertisement

लेकिन इस साल भुवनेश्वर और हर्षल का प्रदर्शन टीम इंडियाके लिए चिंताजनक है. ऐसा हम क्यों कह रहे हैं, वो आपको ये स्टैट्स देखकर खुद ही समझ आ जाएगा.

# Bhuvneshwar-Harshal की बोलिंग चिंताजनक

टीम के प्रमुख तेज गेंदबाज़ जसप्रीत बुमराह काफी समय से चोट के कारण टीम से बाहर रहे हैं. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जारी मौजूदा T20I सीरीज़ के जरिए उन्होंने टीम में वापसी की है. ऐसे में टीम के दूसरे बोलर्स पर जिम्मेदारी बढ़ गई है, लेकिन कोई भी खिलाड़ी ये दवाब झेलता हुआ नहीं दिख रहा है.

इस साल T20I में टीम के तीन बोलर्स चार या उससे ज्यादा मौकों पर एक मैच में 40 रन से अधिक लुटा चुके हैं. हर्षल पटेल ने सबसे ज्यादा पांच बार, जबकि आवेश खान और भुवनेश्वर कुमार ने चार-चार बार ये कारनामा किया है.

भुवनेश्वर कुमार और हर्षल पटेल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जारी T20I सीरीज़ में टीम का हिस्सा है. जहां पहले मैच में भुवनेश्वर ने चार ओवर में 52 तो हर्षल ने 49 रन खर्च किए. भुवनेश्वर की बात की जाए तो उन्होंने पिछले तीन मैच में टीम के लिए 19वें ओवर में बोलिंग की है. इन 18 गेंदों में उन्होंने कुल 49 रन खर्च किए हैं. जबकि चोट के बाद वापसी कर रहे डेथ ओवर स्पेशलिस्ट ने हर्षल ने भी खूब रन लुटाए हैं.

ये दोनों ही खिलाड़ी T20 वर्ल्ड कप के लिए 15 सदस्यीय भारतीय टीम का हिस्सा हैं. ऐसे में ये स्टैट्स टीम इंडिया के लिए कतई ठीक नहीं दिखाई दे रहे हैं. इन दोनों खिलाड़ियों को जल्द ही अपने प्रदर्शन में सुधार लाना होगा. क्योंकि सिर्फ़ बुमराह के टीम में आ जाने से सब ठीक होने की उम्मीद करना ठीक बात नहीं है.


रोहित-द्रविड़ की इस गलती ने फिर से फैन्स को बुरी तरह किलसा दिया

Advertisement
Next