मेसी की कप्तानी वाली अर्जेंटीना को वर्ल्ड कप के पहले ही मैच में लगा बड़ा झटका!

07:48 PM Nov 22, 2022 | रविराज भारद्वाज
Advertisement

फीफा वर्ल्ड कप 2022 में बड़ा उलटफेर देखने को मिला है. मंगलवार, 22 नवंबर को खेले गए मुकाबले में सऊदी अरब ने लियोनल मेसी (Lionel Messi) की कप्तानी वाली अर्जेंटीना को हरा दिया है. ग्रुप C के इस रोमांचक मुकाबले में वर्ल्ड रैंकिंग में 51वें नंबर पर काबिज सऊदी ने 2-1 से जीत हासिल की है. सउदी की तरफ से अल-शाहरानी और सलेम अल-दावसारी ने गोल दागे. वहीं अर्जेंटीना की ओर से मेसी ने पेनल्टी के जरिए एकमात्र गोल किया.

इस हार के साथ ही अर्जेंटीना एक बड़ा रिकॉर्ड भी अपने नाम करने से चूक गई है. इस मैच से पहले अर्जेंटीना लगातार 36 मुकाबलों में अपराजेय थी. इस दौरान वह 25 मैच जीते थे और 11 ड्रॉ खेले थे. और ये मैच जीतते ही टीम इटली के लगातार 37 मैच में अपराजेय रहने के रिकॉर्ड की बराबरी कर लेती. लेकिन सऊदी अरब ने मेसी एंड कंपनी के पूरे प्लान पर पानी फेर दिया. इस मुकाबले में हार के साथ ही अर्जेंटीना के सामने विश्व कप से बाहर होने का खतरा मंडरा रहा है. अब कोपा अमेरिका की विजेता टीम को अपने बाकी बचे दोनों मुकाबलों में हर हाल में जीत हासिल करनी होगी.

Advertisement

# नहीं चला Messi का जादू

मैच में अर्जेंटीना की टीम ने शुरुआत में अटैकिंग फुटबॉल खेली. इस दौरान उन्होंने सऊदी अरब के डिफेंडर्स को दवाब में रखा. सऊदी के डिफेंडर अब्दुल्लाहमिद से इसी दौरान प्रेशर में गलती हो गई. उन्होंने गोल की तरफ भाग रहे लियोनार्डो पैराडेस की शर्ट पकड़ ली. जिस वजह से अर्जेंटीना के मिडफील्डर बॉक्स में गिर गए. रेफरी ने VAR चेक के जरिए अर्जेंटीना को पेनल्टी दे दी. जिसपर मेसी ने बिना कोई गलती किए गोल दाग टीम को 1-0 से आगे कर दिया.

# तीन गोल रहे ऑफसाइड

इसके बाद भी अर्जेंटीना ने अपना अटैंकिग गेम बरकरार रखा. इसी दौरान मैच के 22वें मिनट में लियोनल मेसी ने एक बार फिर शानदार रन बनाते हुए गेंद को गोल पोस्ट में डाल दिया. लेकिन रेफरी ने इसे तुरंत ही ऑफसाइड करार दिया. इसके पांच मिनट बाद ही टीम के स्ट्राइकर लातुरो मार्टिनेज़ ने फिर से आसान मौके को गोल में तब्दील कर दिया. लेकिन किस्मत यहां भी उनके साथ नहीं रही.

और VAR चेक के जरिए इसे भी ऑफसाइड करार दिया गया. हालांकि इससे अर्जेंटीना की टीम निराश नहीं हुई और एक के बाद एक मौके बनाती रही. मैच के 35वें मिनट में एक बार फिर लातुरो ने गोल किया. लेकिन मैच में कुल तीसरी बार रेफरी ने गोल को खारिज कर दिया. इसके बाद इस हाफ में कोई और गोल नहीं हो सका और फर्स्ट हाफ की समाप्ति तक स्कोर 1-0 रहा.

दूसरे हाफ में सऊदी के तेवर एकदम से बदले नजर आए. पहले हाफ में एक भी शॉट टारगेट पर रजिस्टर नहीं करने वाली टीम ने इस बार अटैंकिंग गेम दिखाना शुरू किया. और मैच के 48वें मिनट में अल-शाहरानी ने डिफेंडर क्रिस्टियन रोमेरो को छकाते हुए शानदार गोल कर दिया. अर्जेंटीना की टीम इस सेटबैक से संभल भी नहीं पाई थी, कि तभी मैच के 53वें मिनट में सलेम अल-दावसारी ने गोल कर सऊदी को 2-1 की बढ़त दिला दी.

इसके बाद सऊदी ने अपने डिफेंस को काफी मजबूत किया और अर्जेंटीना को कोई और गोल नहीं करने दिया. जीत से सऊदी को तीन पॉइंट मिले और वो अपने ग्रुप में टॉप पर पहुंच गए हैं. जबकि अर्जेंटीना हार के साथ आखिरी स्थान पर है.

# मैच में क्या रिकॉर्ड बने और टूटे

साल 1974 के बाद ऐसा पहली बार हुआ है जब अर्जेंटीना ने अपने पहले मैच में दो गोल खाए हैं. पिछली बार उन्हें पोलैंड के खिलाफ 2-3 से हार मिली थी. साथ ही साल 1990 के बाद अर्जेंटीना पहली बार वर्ल्ड कप का अपना पहला मुकाबला हारी है. उस वक्त उन्हें कैमरून ने 1-0 से हराया था. हालांकि इसके बाद टीम ने वापसी करते हुए फाइनल तक का सफर तय किया. इसके साथ ही साल 2009 के बाद ये पहला मौका है जब मेसी के गोल करने के बाद भी अर्जेंटीना को हार मिली है. तब टीम को स्पेन के हाथों हार का सामना करना पड़ा था.

अब ग्रुप स्टेज के बाकी बचे मैच में अर्जेंटीना का मुकाबला अब 27 नवंबर को मैक्सिको और 30 नवंबर को पोलैंड के खिलाफ होगा. अर्जेंटीना को प्री-क्वॉर्टरफाइनल में पहुंचने के लिए अब अपने बाकी बचे दोनों मैच में जीत हासिल करनी होगी.


वसीम अकरम की ये बात पाकिस्तान को चुभेगी

Advertisement
Next