'गजब खराब व्यवस्था है'... मीडिया राइट्स से रिकॉर्डतोड़ कमाई करने वाली BCCI के इंतजामों पर भड़के फ़ैन्स!

01:08 PM Jun 21, 2022 | रविराज भारद्वाज
Advertisement

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच होने वाला पांचवां और निर्णायक T20 मुकाबला बारिश की भेंट चढ़ गया. मैच में महज़ 3.3 ओवर का ही खेल हो पाया था कि बारिश ने खलल डाल दिया. इसके बाद मैच दोबारा शुरू नहीं किया जा सका. बारिश ने बैंगलोर के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में मैच देखने आए फ़ैन्स का मजा किरकिरा कर दिया.

ना यहां मैच हो पाया और ना ही फ़ैन्स मैदान में सुकून से बैठ पाए. मैच देखने आए दर्शकों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा. और ऐसे हालात में गुस्साए फ़ैन्स ने BCCI को खूब खरी-खोटी सुनाई. लोग इस बात से निराश थे कि दुनिया का सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड अपने फ़ैन्स का अच्छे से ख्याल नहीं रखता.

Advertisement

भीगने लगे फ़ैन्स

दरअसल बारिश की वजह से चिन्नास्वामी स्टेडियम की छत लीक हो रही थी. और इसके चलते नीचे बैठे फ़ैन्स भीग गए. इनका एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल भी हो रहा है. वीडियो में देखा जा सकता है कि स्टेडियम की छत से काफी पानी टपक रहा है. जिस कारण वहां बैठे फ़ैन्स अपनी सीट छोड़कर उठ गए. जिसके बाद एक ट्विटर यूजर ने टपकती हुई छत का वीडियो पोस्ट किया और BCCI द्वारा किए गए इंतजामों पर सवाल उठाए. यूजर ने ट्वीट लिखा,

‘स्टेडियम के अंदर की स्थिति काफी निराशाजनक थी! BCCI दुनिया का सबसे अमीर बोर्ड है, लेकिन फ़ैन्स को इस तरह के हालातों का सामना करना पड़ रहा है!’

साथ ही यूजर ने BCCI और कर्नाटक क्रिकेट असोसिएशन को टैग करते हुए पूछा कि वे खेल के दौरान प्रशंसकों के मैच देखने के अनुभव में कब सुधार करेंगे.

सौरव गांगुली ने किया था वादा

बता दें कि BCCI ने हाल ही में इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के मीडिया राइट्स 48,000 करोड़ में बेचे थे. और इसके बाद BCCI ने बुनियादी ढांचे के विकास की बात कही थी. BCCI प्रेसिडेंट सौरव गांगुली ने कहा था कि बोर्ड, इस पैसे का उपयोग बुनियादी ढांचे के विकास के लिए करेगा. साथ ही, राज्य संघों को भी बड़ी राशि आवंटित की जाएगी. गांगुली ने कहा था,

‘हम इस पर निश्चित रूप से काम करेंगे और एक बेहतर फैन एक्सपीरियंस के लिए बुनियादी ढांचे में सुधार करेंगे. बहुत सारे नए स्टेडियम बने हैं और इस देश में क्रिकेट का बुनियादी ढांचा बहुत बड़ा है. हम कुछ स्टेडियमों को नया रूप देंगे.’

लेकिन गांगुली के बयान के कुछ दिन बाद ही स्टेडियम की ऐसी स्थिति देखने को मिली है. अब देखना होगा कि BCCI इन स्टेडियमों की स्थिति में सुधार करने के लिए क्या कदम उठाती है. और इनके रिजल्ट्स सामने आने में कितना वक्त लगेगा.

Advertisement
Next