ये वाला इयरबड कभी चार्ज नहीं करना पड़ेगा, जानिए कितने का मिलेगा?

04:07 PM Sep 22, 2022 | सूर्यकांत मिश्रा
Advertisement

स्मार्टफोन (smartphone) से लेकर स्मार्टवॉच ( smart watch) तक और ब्लूटूथ डिवाइस से लेकर हेडफ़ोन तक को सच में स्मार्ट कहने का टाइम आ गया है.  ऐसा इसलिए क्योंकि अब ये डिवाइस चार्ज होंगे सोलर पावर से. स्वीडन की एक कंपनी ने एक ऐसी तकनीक विकसित की है, जिसका इस्तेमाल शुरू हुआ तो मोबाइल और लैपटॉप की एक्सेसरीज़ को चार्ज करने का झंझट एकदम खत्म हो जाएगा.

Advertisement

IFA  मतलब तकनीक की दुनिया के लोगों का महाकुंभ. दुनियाभर की हर टेक कंपनी यहां आती है और अपने नए-नए प्रोडक्टस शोकेस करती है. इस साल IFA हुआ जर्मनी की राजधानी बर्लिन में. तमाम टेक महारथियों के उत्पादों और भविष्य की टेक्नोलॉजी के बीच ध्यान खींचा Urbanista नाम की कंपनी ने. स्वीडन बेस्ड ये कंपनी हेडफोन, इयरफोन और स्पीकर्स बनाती है. इस कंपनी ने अपने नए ईयर बड्स दुनिया के सामने पेश किये. फोनिक्स (Phoenix) नाम के इन बड्स में बैटरी की जगह लगे हैं सोलर पैनल. ये इयरबड स्वीडन में 159 डॉलर यानी करीब 12 हज़ार रुपये का मिल रहा है.

फोनिक्स

सोलर पैनल नाम सुनकर आपको लग रहा होगा कि अलग से कोई प्लेट टाइप कुछ मिलेगा जिसको घर के छत पर फिक्स करना होगा. ऐसा बिल्कुल भी नहीं है. आमतौर पर जितने साइज के दूसरे ईयर बॅड्स होते हैं वैसे ही फोनिक्स भी नजर आते हैं. चार्जिंग केस के अंदर ही सोलर पैनल इंट्रीगेटिड हैं. बोले तो चार्जिंग का रोना हमेशा के लिए खत्म. कंपनी ने इस तकनीक को नाम दिया है "endless play.” बोले तो कार का पेट्रोल खत्म ही नहीं होनदा टाइप.

हालांकि कंपनी का सोलर चार्जिंग को लेकर ये पहला प्रयास नहीं है. कंपनी इसके पहले लॉस एंजिलस (Los Angeles) के नाम से कान के ऊपर पहने जाने वाले ईयरफोन (over-ear headphones) लॉन्च कर चुकी है, लेकिन उस प्रोडक्ट को कुछ सराहा नहीं गया. नए ईयर बॅड्स देखने में स्लिम हैं और इसमें लगे हैं फ्लेक्सिबल और  कस्टमाइज Powerfoyle. ये एक आइडियल बड्स की दूसरी खासियतों पर भी खरा उतरता है. इसमें मिलता है आठ घंटे का प्लेबैक टाइम, IPX4 rating, टच कंट्रोल. यूएसबी टाइप सी भी है अगर आपको जल्दी चार्जिंग चाहिए तो.  

Urbanista

सोलर पैनल से चार्ज करना है तो बस अपने पॉकेट या बैग से चार्जिंग बॉक्स को बाहर निकाल दीजिए. आसान भाषा में कहें तो एक घंटे की धूप मतलब एक घंटे का म्यूजिक प्लेबैक. Urbanista का मोबाइल ऐप भी है जो सूरज की रोशनी की इन्टेन्सिटी भी बताता है. मतलब डिस्प्ले होगा कि कितने देर में फुल चार्ज होगा. कहने को तो ये बहुत साधारण सा इनोवेशन नजर आता है लेकिन असल में एक जीनियस खोज है. आगे चलकर अगर ये तकनीक अपने फुल स्केल पर आती है तो इलेक्ट्रॉनिक्स गैजेट्स की सबसे बड़ी दिक्कत दूर हो सकती है.  


वीडियो: मोबाइल बैटरी कितनी देर चलेगी

 
   

Advertisement
Next